आंतों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए इन 5 तरीकों को आज़माए.. आपकी सारी समस्याए दूर हो जायेगी

1
235
gut
gut health

यह देखते हुए कि लोग कितना बड़ा निर्णय लेने से पहले अपनी ‘गट फिलिंग’ पर भरोसा करते हैं, या एक उपक्रम करने का निर्णय लेते हैं, धारणा यह है कि आंत को स्वस्थ रखना बहुत महत्वपूर्ण हो सकता है। जबकि ‘गट महसूस’ एक अभिव्यक्ति या किसी निश्चित घटना या स्थिति के बारे में महसूस करने के लिए एक अभिव्यक्ति है, आंत या जठरांत्र संबंधी मार्ग अभी भी शरीर के सबसे महत्वपूर्ण भागों में से एक है, क्योंकि यह एक स्वस्थ पाचन के लिए जिम्मेदार है, और पाचन तंत्र के अन्य अंगों के लिए मुंह से भोजन का परिवहन।

एक स्वस्थ आहार एक स्वस्थ आंत से जुड़े प्रमुख कारकों में से एक है। आंत की परत में सूक्ष्मजीव होते हैं जैसे कि उसमें रहने वाले बैक्टीरिया, और ये भोजन को तोड़ने में भी मदद करते हैं। जब आप ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करते हैं जो आंत बैक्टीरिया के स्वास्थ्य और दक्षता को बढ़ाते हैं, तो आपके पाचन में सुधार होता है। हालांकि, आहार के अलावा आंत के स्वास्थ्य में सुधार के और भी तरीके हैं।

5 तरीके जिससे आंत की सारी परेशानियां हो जायेगी दूर

तनाव प्रबंधन – तनाव आपके शरीर पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकता है, जिसमें आपकी आंत भी शामिल है। उचित ब्रेक लेकर तनाव का प्रबंधन करना, तनाव पैदा करे इसी स्थितिओ से बचना, मेडिटेशन या हर्बल चाय जैसे घरेलू उपचार, पेट के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है।

हाइड्रेशन – पानी में हमारे शरीर का 70 प्रतिशत से अधिक हिस्सा होता है, और पाचन सहित शरीर के विभिन्न कार्यों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। पेट की सेहत सुधारने के लिए हाइड्रेटेड रहना बहुत जरूरी है। सुनिश्चित करें कि आप एक दिन में कम से कम 2-3 लीटर पानी पीते हैं।

धीरे-धीरे खाएं – हमने अक्सर सुना है कि हमारे बुजुर्ग हमें कहते हैं कि हमें धीरे-धीरे खाना चाहिए, और अधिक समय तक अपना भोजन चबाना चाहिए। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह हमारे द्वारा खाए जाने वाले भोजन के बेहतर संश्लेषण में मदद करता है, पेट के स्वास्थ्य में सुधार करता है, और भोजन के बेहतर अवशोषण में भी मदद करता है।

हाल चाल करे – शारीरिक गतिविधि पाचन और आंत के स्वास्थ्य में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है। यह भोजन के बेहतर अवशोषण में मदद करता है, और पाचन तंत्र को भी बढ़ावा देता है। ब्रिस्क वॉक, रनिंग, साइक्लिंग, स्विमिंग आदि के रूप में कुछ शारीरिक गतिविधि को अपनी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए।

एलर्जी की जांच करें – कुछ लोग खराब आंत के स्वास्थ्य से पीड़ित होते हैं क्योंकि वे अपने शरीर में एलर्जी, या असहिष्णुता से अनजान होते हैं। उदाहरण के लिए, यदि आप लैक्टोज इंटोलरेंट हैं और दूध पीते हैं, तो आपको सूजन या दस्त का अनुभव होने की संभावना है, जो खराब आंत के स्वास्थ्य के संकेत हो सकते हैं। जिन खाद्य पदार्थों से आपको एलर्जी या इंटोलरेंस है, उनसे बचना आंत की सेहत सुधारने में मदद कर सकता है।

Disclaimer: लेख में बताई गई टिप्स और सुझाव केवल सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। किसी भी फिटनेस कार्यक्रम को शुरू करने या अपने आहार में कोई भी बदलाव करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ से सलाह लें।

For more such articles, amazing facts and Latest news


You may also like to read


1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here